चक्रवात वायु फिर कर सकता है पलटवार, मौसम विभाग ने जताई कच्छ के तट से टकराने की संभावना

124

अरब सागर में बने चक्रवात वायु के फिर मुड़कर गुजरात के कच्छ तट से टकराने की संभावना है। इसके पहले 12-13 जून को इसके गुजरात के वेरावल, पोरबंदर, द्वारका के तटीय क्षेत्रों से टकराने की संभावना थी, लेकिन चक्रवात वायु ने मार्ग बदल लिया था और यह ओमान की तरफ मुड़ गया था। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात वायु के कल 16 जून को अपना मार्ग बदलने और 17-18 जून को कच्छ में दस्तक देने की संभावना है। हालांकि चक्रवात वायु का असर इस दौरान कम हो सकता है।
मौसम विभाग के अनुसार चक्रवात वायु के फिर से अपना मार्ग बदलने और गुजरात के कच्छ तट पर दस्तक देने की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि यह चक्रवात या ‘डीप डिप्रेशन’ के तौर पर तट पर दस्तक दे सकता है। गुजरात सरकार ने चक्रवात के मार्ग बदलने की संभावना के बारे में चेतावनी जारी की है।
गौरतलब है कि चक्रवात वायु ने बुधवार और गुरुवार की दरम्यानी रात को अपना मार्ग बदल लिया था। जबकि इससे पहले भारतीय मौसम विभाग ने कहा था कि चक्रवात वायु गुजरात से नहीं टकराएगा और यह वेरावल, पोरबंदर, द्वारका के नजदीक से होता हुआ गुजर जाएगा, लेकिन इसका असर तटीय क्षेत्रों में देखने को मिल सकता है. इन इलाकों में तेज हवा और भारी बारिश हो सकती है, साथ ही वहीं मौसम काफी खराब हो सकता है।