देश में दो दिन मनाई जाएगी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी

112

भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव इस बार दो दिन 23 और 24 अगस्त को मनाया जाएगा। भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव भादों मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है, इसलिए इसे भगवान श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भी कहते हैं।
इस बार अष्टमी तिथि 23 और 24 अगस्त दो दिन पड़ रही है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार भगवान कृष्ण के जन्म के वक्त आधी रात को अष्टमी तिथि पड़ने के कारण आज 23 अगस्त को जन्माष्टमी मनाई जाएगी। वहीं भगवान श्रीकृष्ण का जन्म रोहिणी नक्षत्र में मध्यरात्रि को हुआ था और रोहिणी नक्षत्र 24 अगस्त को सुबह से लग रहा है इसलिए कुछ लोग कल भी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मनाएंगे। कुछ ज्योतिषाचार्यों की राय में कृष्ण प्रगटोत्सव अष्टमी व्यापिनी तिथि 23 अगस्त को मनाना श्रेष्ठ है, वहीं कुछ की राय में जन्माष्टमी उदयातिथि अष्टमी और रोहिणी नक्षत्र होने से 24 अगस्त को है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार अष्टमी 23 अगस्त शुक्रवार को सुबह 8:09 बजे से 24 अगस्त को 8:32 बजे तक रहेगी। वहीं रोहिणी नक्षत्र 24 अगस्त को सुबह 3:48 बजे लगेगा और 25 अगस्त को सुबह 4:17 बजे तक रहेगा।