शशि थरूर सहित 23 भारतीय भाषाओं के रचनाकारों को साहित्य अकादमी पुरस्कारों की घोषणा

171

साहित्य अकादमी ने आज पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। अंग्रेजी के लिए डॉ शशि थरूर, हिंदी के लिए नंदकिशोर आचार्य, उर्दू के लिए प्रो शाफे किदवई सहित 23 भारतीय भाषाओं के रचनाकारों को वर्ष 2019 का प्रतिष्ठित साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया जाएगा।
साहित्य अकादमी ने अपने बुधवार को 23 भाषाओं में अपने वार्षिक साहित्य अकादमी पुरस्कार की घोषणा कर दी है।
साहित्य अकादमी द्वारा सात कविता संग्रह, चार उपन्यास, छह कहानी संग्रह, तीन निबंध संग्रह, एक-एक कथेतर गद्य, आत्मकथा और जीवनी के लिए यह सम्मान देने की घोषणा की।
हिंदी में नंदकिशोर आचार्य को उनके कविता-संग्रह ‘छीलते हुए अपने को’ के लिए यह सम्मान दिया जाएगा। शशि थरूर को अंग्रेजी भाषा में कथेतर गद्य ‘एन एरा ऑफ़ डार्कनेस’ के लिए तथा उर्दू में शाफ़े किदवई को जीवनी ‘सवनेह-ए-सर-सैयद-एक बाज़दीद’ के लिए ये सम्मान दिया जाएगा।

साहित्य अकादमी पुरस्कार पाने वाले साहित्यकार-
हिंदी- नंदकिशोर आचार्य
अंग्रेजी- शशि थरूर
उर्दू- शाफ़े किदवई
असमिया- जय श्री गोस्वामी महंत
बाड्ला- चिन्मय गुहा
बोडो- फुकन चन्द्र
डोगरी- ओम शर्मा
गुजराती- रतिलाल बोरीसागर
कन्नड़- विजया
कश्मीरी- अब्दुल अहद हाज़िनी
कोंकणी- निलबा खांडेकर
मैथिली- कुमार मनीष
मलयालम- मधुसूदन नायर
मणिपुरी- बेरिल
मराठी- अनुराधा पाटिल
ओड़िया- तरुण कांति
पंजाबी- किरपाल कज़ाक
राजस्थानी- रामस्वरूप किसान
संस्कृत- पेन्ना मधुसूदन
संताली- काली चरण
सिंधी- ईश्वर मूरजाणी
तमिल- धर्मन
तेलुगु- बंदि नारायणा स्वामी