एलसीए नेवी की आईएनएस विक्रमादित्य पर प्रथम लैंडिंग

88

शोर बेस्ड टेस्ट फेसिलिटी (एसबीटीएफ) पर व्यापक परीक्षणों के पूर्ण होने के बाद लाइट कम्बैट एअरक्राफ्ट (एलसीए) ने आज 1002 बजे आईएनएस विक्रमादित्य के बोर्ड पर लैंडिंग की। कमोडोर जयदीप मावलंकर ने इस प्रथम लैंडिंग का परिचालन किया। कैप्टन दहिया लैंडिंग सेफ्टी ऑफिसर (एलएसओ) और कमोडोर विवेक पांडे जहाज पर टेस्ट डायरेक्टर थे, जबकि कमोडोर अंकुर जैन एसबीटीएफ से टेलीमेट्री के जरिए एअरक्राफ्ट की निगरानी कर रहे थे। एलसीए नेवी का विकास रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा किया गया है।
रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव तथा डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ. जी सतीश रेड्डी ने डीआरडीओ, एरोनोटिकल डेवलपमेंट एजेंसी (एडीए), भारतीय नौसेना, हिन्दुस्तान एरोनोटिक्स लिमिटेड (एचएएल), वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) तथा एरोनोटिकल क्वालिटी एश्योरेंस महानिदेशालय (डीजीएक्यूए) की टीमों को बधाई दी है।