चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण केन्‍द्र में ब्रह्मोस मिसाइल का सफल परीक्षण

401

आज सुबह 10:40 बजे ओडिशा तट के चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण केन्‍द्र (एटीआर) से ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। यह परीक्षण ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल की सेवा अवधि बढ़ाने के लिए किया गया। मिसाइल का परीक्षण रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) तथा ब्रह्मोस के वैज्ञानिकों की उपस्थिति में किया गया। परीक्षण के साथ यह मिसाइल निर्धारित मार्ग पर चला और इसके उपकरणों ने सम्‍पूर्णता के साथ कार्य किया।
ब्रह्मोस भारत के डीआरडीओ तथा रूस के एनपीओएम का संयुक्‍त उद्यम है। ब्रह्मोस मिसाइल आधुनिक युद्ध प्रणाली में सर्वश्रेष्‍ठ हथियार के रूप में उभरा है और इसकी गति, निशाना तथा गोलाबारी बेजोड़ है। रक्षामंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन ने ब्रहमोस मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए डीआरडीओ तथा ब्रहमोस की टीम को बधाई दी और कहा कि भारतीय सशस्‍त्र सेना की इन्‍वेंटरी में रखे गये मिसाइलों को बदलने की लागत में बड़ी बचत होगी। डीआरडीओ के अध्‍यक्ष और रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग के सचिव डॉ एस. क्रिस्‍टोफर ने सेवा अवधि विस्‍तार के लिए ब्रहमोस मिसाइल के सफल परीक्षण पर डीआरडीओ तथा ब्रह्मोस के वैज्ञानिकों को बधाई दी। महानिदेशक (ब्रह्मोस) तथा सीईओ और प्रबंध निदेशक ब्रह्मोस डॉ सुधीर मिश्रा ने सफल परीक्षण के लिए टीम को बधाई दी और कहा कि इस परीक्षण से भारतीय सशस्‍त्र सेना को आर्थिक रूप से लाभकारी और अधिक अवधि के लिए इन्‍वेंटरी रखने में मदद मिलेगी।