अनंत में विलीन हुए अटल जी

260

पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी बेटी नमिता ने शुक्रवार शाम राष्‍‍‍‍‍‍ट्रीय स्‍मृति स्‍थल पर हिंदू रीति रिवाज के साथ मुखाग्नि दी। उनका पार्थिव शरीर सुबह उनके सरकारी आवास से बीजेपी मुख्‍यालय पहुंचाया गया था। जहां हजारों लोगों ने उनके अंतिम दर्शन किए। इसके बाद जनसैलाब के साथ उनकी अंतिम यात्रा स्‍मृति स्‍थल पहुंची, जहां पूरे राजकीय सम्मान के साथ अटल जी को अंतिम विदाई दी गई। यहां उन्‍हें राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू, तीनों सेना प्रमुख, लोकसभा अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन, लालकृष्‍‍‍‍ण आडवाणी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने अंतिम बार श्रद्धांजलि दी। उन्‍हें सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों ने भी श्रद्धांजलि दी। साथ ही अटल जी को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया।
स्‍मृति स्‍थल पर पीएम मोदी, बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, नितीश कुमार, मुलायम सिंह यादव सहित सभी पार्टियों के प्रमुख नेता मौजूद रहे। अंतिम संस्‍कार कार्यक्रम में अफगानिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति हामिद करजई, पाकिस्‍तान की ओर से वहां के कानून मंत्री अली जफर, नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार, बांग्‍लादेश के विदेश मंत्री अबुल हसन महमूद अली, भूटान के राजा जिग्‍मे खेसर नामग्‍येल वांगचुक अंतिम संस्‍कार के लिए पहुंचे।