पीएनबी घोटाले के आरोपियों पे कसा शिकंजा

299

पीएनबी अधिकारियों के साथ मिलकर 11,400 करोड़ रुपये का घोटाला करने वाले हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चौकसी की विदेशी संपत्तियों व कारोबार के बारे में अनेक देशों से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जानकारी मांगेगा। घोटाले के आरोपियों पर शिकंजा कसते हुए इस बारे में जल्द ही अनुरोध पत्र भेजने की तैयारी की जा रही है। बताया जा रहा है कि ईडी इस बारे में मुंबई स्थित सक्षम अदालत से इस संबंध में अनुरोध पत्र (एलआर) जारी करने का आग्रह करेगी। ईडी ये अनुरोध पत्र उन 15-17 देशों को भेजेगी, जहां उसे नीरव मोदी और मेहुल चौकसी व उनसे जुड़े अन्य लोगों के स्वामित्व वाली फर्मों के हीरा व स्वर्ण आभूषण कारोबार होने के सूचना मिली हैं।
इन देशों में बेल्जियम, हांगकांग, स्विटजरलैंड, अमेरिका, ब्रिटेन, दुबई, सिंगापुर व दक्षिण अफ्रीका आदि शामिल हैं। वहीं ईडी ने नीरव मोदी, उसकी पत्नी एमी और मेहुल चौकसी को ईडी के मुंबई ऑफिस में हाजिर होने का सम्मन जारी किया है। अगर इस सम्मन की तामील नहीं होती है तो ईडी पीएमएलए की अदालत में अर्जी देकर गैर जमानती वारंट जारी करने का आग्रह कर सकता है।