रांची लिटरेचर फेस्टिवल का आयोजन 29 दिसम्बर को

185

साहित्यिक संस्था अशोका साहित्य अकादमी के तत्वावधान में अकादमी के संस्थापक व राष्ट्रीय अध्यक्ष, लेखक व कवि सुरेश वर्मा (भारतीय पुलिस सेवा) की अध्यक्षता में झारखंड की राजधानी रांची में रांची लिटरेचर फेस्टिवल का आयोजन 29 दिसंबर 2019 को किया जा रहा है।
आयोजन की जानकारी देते हुए अशोका साहित्य अकादमी बिहार की अध्यक्षा श्रीमती स्नेहा किरण ने बताया कि कला, साहित्य और संस्कृति की त्रिवेणी को पूरी तरह समर्पित यह कार्यक्रम सुबह 10 बजे से रांची में सचिदानन्द ज्ञान भारती मॉडल स्कूल, डोरंडा रांची में आयोजित होने जा रहा है। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में रांची के सांसद संजय सेठ जी मौजूद रहेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में हटिया विधायक नवीन जायसवाल, रांची विश्वविद्यालय के भूतपूर्व कुलपति डॉ सीन अख्तर, आकाशवाणी दिल्ली के पूर्व डायरेक्टर जनरल ग्रेस कुजूर, जस्टिस विक्रमादित्य, प्रसिद्ध युवा साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित युवा कवि डॉ अनुज लुगुन, वरिष्ठ कवि और लेखक महादेव टोप्पो, वरिष्ठ साहित्यकार डॉ मिथिलेश (प्राचार्य रामगढ़ कॉलेज), चर्चित कवि व आलोचक सुशील कुमार (जिला शिक्षा अधिकारी रामगढ़ ), विजय पासवान (उप निदेशक कला व संस्कृति विभाग, झारखंड सरकार) और डार्क हॉर्स के नामचीन लेखक नीलोत्पल मृणाल आदि मौजूद रहेंगे। जो अपनी कविताओं व साहित्यिक अनुभवों को साझा करेंगे। इस साहित्यिक आयोजन में विपुल नायक के द्वारा कत्थक नृत्य रूप में विश्व प्रसिद्ध कृति मधुशाला की प्रस्तुति की जायेगी। जिसे देखना अपने आप में एक सुखद अनुभूति होगा।
कार्यक्रम में देश व राज्य के सभी ज्वलंत मौजूदा साहित्यिक विषयों पर परिचर्चा होगी। कई नामचीन लेखकों व उनकी रचनाओं से रूबरू होने के साथ साथ एक विराट कवि सम्मेलन, दिव्यांगों की ओर से एक बेहतरीन फैशन शो, स्कूली बच्चों द्वारा लोक नृत्य, लोक नाट्य व रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। बिहार प्रदेश अध्यक्षा स्नेहा किरण ने सभी लेखकों, कवियों और पाठकों से अनुरोध किया है कि ऐतिहासिक नगरी रांची में होने वाले इस बेहतरीन कलात्मक, सांस्कृतिक व साहित्यिक महाकुंभ रांची लिटरेचर फेस्टिवल में अपनी उपस्थिति दर्शाएं।