चीनी स्मार्टफोन कंपनी हुवावे से गूगल ने तोड़ा नाता, एंड्राइड सॉफ्टवेयर नहीं करेगा सपोर्ट

161

अमेरिकी टेक्नोलॉजी कंपनी गूगल ने चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी हुवावे के साथ अपना नाता तोड़ दिया है। गूगल ने पार्टनरशिप खत्म करने की घोषणा के साथ ही अब हुवावे को सॉफ्टवेयर नहीं देने का ऐलान कर दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सरकार ने हुवावे को अमेरिका में ब्लैकलिस्ट कर दिया है। जिसके बादगूगल के अलावा इंटेल, चिपसेट निर्माता कंपनी क्वालकॉम, सिलिंक्स और ब्रॉडकॉम जैसी कंपनियां भी अब हुवावे को किसी तरह के हॉर्डवेयर और सॉफ्टवेयर सप्लाई नहीं करेंगी। गौरतलब है कि हुवावे पर फोन के जरिए लोगों की जासूसी करने का आरोप लगा है।
अमेरिकी सरकार द्वारा हुवावे को ब्लैकलिस्ट करने और गूगल व क्वॉलकॉम जैसी कंपनियों का सपोर्ट बंद होने के बाद हुवावे को बहुत नुकसान हो सकता है, क्योंकि गूगल तत्काल प्रभाव से हुवावे को एंड्रॉयड का अपडेट देना बंद कर देगा। साथ ही हुवावे स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर, जीमेल और यूट्यूब जैसे ऐप्स की सेवा बंद हो जाएगी। ऐसे में हुवावे को एंड्रॉयड के पब्लिक वर्जन से काम चलाना होगा। साथ ही हुवावे के फोन में यूजर्स गूगल के किसी भी ऐप्स का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे।