संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया

152

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया हैं। आतंकी सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया जाना भारत की बड़ी सफलता है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने कहा कि बड़े, छोटे, सभी एक साथ शामिल हुए हैं। मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की सूची में एक आतंकवादी के रूप में नामित किया गया है। पुलवामा आतंकी हमले के लिए जिम्मेदार मसूद अजहर को अब तक चीन का समर्थन मिलता रहा है, लेकिन आखिरकार चीन ने अपनी रोक हटा ली।
पाकिस्तान ने भी पुष्टि की कि मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) के प्रस्ताव 1267 के तहत वैश्विक आतंकवादी के रूप में नामित किया जाना है। अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस द्वारा मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए किए गए ताजा प्रस्ताव पर पाकिस्तान और चीन ने आपत्ति नहीं जताई, जिसके बाद यह सफलता सामने आई। मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया जाना भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी कूटनीतिक जीत है क्योंकि भारत काफी लंबे समय से खासकर कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से इसके लिए जोर दे रहा है। चीन लगातार अपनी वीटो का इस्तेमाल कर रोड़ा अटका रहा था।