नेपाल से हमारा रोटी-बेटी का रिश्ता, बातचीत से सुलझा लेंगे हर मसला: राजनाथ सिंह

181

भाजपा के वरिष्ठ नेता और देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज उत्तराखंड के भाजपा कार्यकर्ताओं को जनसंवाद रैली के माध्यम से सम्बोधित किया।
अपने संबोधन में राजनाथ सिंह ने भारत-नेपाल के बीच चल रहे सीमा विवाद पर कहा कि भारत-नेपाल का रिश्ता रोटी और बेटी का है। दुनिया की कोई ताकत इसे तोड़ नहीं सकती। अगर लिपुलेख से धारचूला तक रोड बनने से नेपाल के लोगों में कोई गलतफहमी है, तो उसे हम बातचीत से सुलझा लेंगे।
राजनाथ सिंह ने कहा कि कैलाश मानसरोवर यात्रियों को मोदी सरकार ने बड़ी सुविधा दी है। पहले मानसरोवर जाने वाले यात्री सिक्किम के नाथुला से होकर जाते थे, जिसमें समय अधिक लगता था। बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन ने लिपुलेख तक एक लिंक रोड का निर्माण किया। जिससे अब इस यात्रा में 6 दिन कम लगेंगे। उत्तराखंड परिश्रम और पराक्रम की भूमि है, ये देवभूमि है।
उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केदारनाथ के पुनर्निमाण के सभी पहलुओं की समीक्षा की है। ये कोशिश की जा रही है कि यात्रियों को यहां ईको फ्रेंडली सुविधाएं मिल सके।
राजनाथ सिंह ने कहा कि मोदीजी ने लक्ष्य निर्धारित किया है कि भारत सिर्फ आयात करने वाला देश नहीं होना चाहिए, बल्कि बड़ा निर्यातक देश भी बनना चाहिए। रक्षा के क्षेत्र में पहले केवल 100-150 करोड़ रुपये का निर्यात होता था। हमने अब लक्ष्य बनाया है कि 2024 तक रक्षा क्षेत्र से 5 बिलियन डालर का निर्यात करेंगे।