टैगोर सांस्कृतिक समरसता पुरस्कारों की घोषणा

306

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाले निर्णायक मंडल ने वर्ष 2014, 2015 और 2016 के लिए टैगोर सांस्कृतिक समरसता पुरस्कार घोषित कर दिए गए। ये पुरस्कार मणिपुर नृत्य के महान कलाकार राजकुमार सिंहाजित सिंह, छायानट (बांग्लादेश का सांस्कृतिक संगठन) और भारत के महान मूर्तिकार राम वनजी सुतार को दिया जा रहा है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में निर्णायक मंडल ने यह फैसला किया है। निर्णायक मंडल में भारत के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, एन. गोपालास्वामी और डॉ विनय सहस्रबुद्धे शामिल हैं। निर्णायक मंडल ने 24 अक्टूबर, 2018 को हुई विस्तृत चर्चा के दौरान एक मत से निर्णय किया कि राजकुमार सिंहाजित सिंह को वर्ष 20164, छायानट को वर्ष 2015 और राम वनजी सुतार को वर्ष 2016 के लिए टैगोर पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। इस वार्षिक पुरस्कार को भारत सरकार ने गुरुदेव रबिन्द्रनाथ टैगोर की 150वीं जयंती के दौरान शुरू किया था। पहला टैगोर पुरस्कार 2012 में भारत के महान सितारवादक पं रविशंकर को और दूसरा पुरस्कार 2013 में जुबीन मेहता को प्रदान किया गया था। पुरस्कार में एक करोड़ रुपये की राशि, प्रशस्तिपत्र, पट्टिका और पारंपरिक दस्तकारी-हथकरघा से बना उत्कृष्ट उपहार प्रदान किया जाता है। यह पुरस्कार राष्ट्रीयता, नस्ल, भाषा, जाति, आस्था या लिंग से इतर हर व्यक्ति के लिए खुला है।