Sunday, February 25, 2024
Homeआस्थावार्षिक राशिफल 2024तुला राशि का वर्ष 2024 का वार्षिक राशिफल

तुला राशि का वर्ष 2024 का वार्षिक राशिफल

ज्योतिषाचार्य पं अनिल कुमार पाण्डेय
प्रश्न कुंडली एवं वास्तु शास्त्र विशेषज्ञ
साकेत धाम कॉलोनी, मकरोनिया
सागर,  मध्य प्रदेश- 470004
व्हाट्सएप- 8959594400

तुला राशि राशि चक्र की सातवीं राशि है। तुला का अर्थ होता है तराजू। अंग्रेजी में इसे लिब्रा (Libra) कहते हैं। यह 180 से 210 अंश तक रहता है। चित्रा नक्षत्र के अंतिम दो चरण, स्वाति नक्षत्र के चारों चरण तथा विशाखा नक्षत्र के प्रथम तीन चरण मिलकर तुला राशि का निर्माण करते हैं।

इस राशि का स्वामी शुक्र है। इस राशि की आकृति तराजू लिए पुरुष जैसी होती है। इसका स्वभाव चर है। तुला राशि की प्रकृति क्रूर है। इस राशि का तत्व वायु है, गुण राजसी है जाति शुद्र है। यह दिन में बलि होती है। यह पश्चिम दिशा की स्वामी है। यह राशि त्रिधातु प्रकृति की है। शरीर में वस्ति और चर्म पर होने वाले सभी क्रियाओं का असर इसी राशि से देखा जाता है। यह एक सजल राशि है।

इस राशि के जातक विचारशील, पढ़ने की रुचि वाले, जिज्ञासु, राजनीति में कुशल तथा अपना कार्य सिद्ध करने में दक्ष होते हैं। ये अकारण क्रोध करने वाले, मधुर भाषी, दयालु, चंचल नेत्रों वाले, व्यापार में चतुर, देवताओं का पूजन करने वाले, परदेशवासी तथा मित्रों के प्रिय पात्र होते हैं। इस राशि वालों के लिए सूर्य बाधक ग्रह होता है। सिंह राशि बाधक राशि होती है और शनि इनके लिए शुभ ग्रह होते हैं।

तुला राशि के जातक जो जनप्रतिनिधि है उनके लिए 15 मार्च 2024 तक का समय अत्यंत उत्तम है। वे इस अवधि में कोई भी इलेक्शन जीत सकते हैं।

धन उपार्जन
2024 में मई महीने तक आपके पास लगातार धन आता रहेगा। विशेष कर फरवरी और मार्च में धन की आवक में कुछ और वृद्धि होगी। इसके अलावा अगस्त, सितंबर, नवंबर और दिसंबर के महीने में भी धन आने की मात्रा में वृद्धि होगी। उपाय- आपको चाहिए कि आप रविवार का व्रत करें और प्रतिदिन भगवान सूर्य को जल अर्पण करें।

कैरियर
इस वर्ष करियर के प्रति आपको सतर्क रहने की आवश्यकता है, आपके स्थानांतरण का योग भी बन रहा है। मई के बाद से आपको अपने करियर के प्रति ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है, अन्यथा आपको हानि भी हो सकती है। जुलाई और अगस्त के महीने में कुछ अच्छे संदेश भी प्राप्त हो सकते हैं। उपाय- आपको चाहिए कि आप इस वर्ष मंगलवार का व्रत करें और मंगलवार को ही हनुमान जी के मंदिर में जाकर कम से कम तीन बार हनुमान चालीसा का जाप करें।

भाग्य
इस वर्ष जनवरी के माह में भाग्य से आपको बहुत कम मदद प्राप्त होगी। फरवरी के माह में भाग्य आपका कभी साथ देगा और कभी नहीं देगा। जून के महीने में भाग्य से आपको अत्यधिक मदद प्राप्त होगी। इसका असर जुलाई में भी रहेगा। अगस्त और सितंबर के महीने में आपको भाग्य से मदद प्राप्त नहीं हो पावेगी। नवंबर और दिसंबर के महीने में पुनः आपको भाग्य से मदद प्राप्त होगी। बाकी महीना में भाग्य आपका सामान्य है जितना आप परिश्रम करेंगे उतना प्राप्त करेंगे। उपाय- आपको पन्ना पहनना चाहिए। गाय को प्रतिदिन हरा चारा खिलाना चाहिए।

परिवार
वर्ष के प्रारंभ में आपके और आपके जीवन साथी के संबंध अत्यंत उत्तम रहेंगे। इसके उपरांत स्वास्थ्य कारणों से आप दोनों के संबंधों में थोड़ा असर पड़ सकता है। माताजी पिताजी का स्वास्थ्य सामान्य तौर पर ठीक रहेगा। माता जी के पेट में अप्रैल के बाद थोड़ा कष्ट हो सकता है। पिताजी को अक्टूबर के महीने के उपरांत कष्ट होने की संभावना है। भाई बहनों के साथ आपके संबंध थोड़े तनाव पूर्ण हो सकते हैं। उपाय- हर एकादशी का व्रत रखें तथा गायत्री मंत्र की एक माला का जाप करें।

स्वास्थ्य
आपके और आपके जीवनसाथी के स्वास्थ्य में कई बार गिरावट आएगी। अक्सर ऐसे संयोग आएंगे की किसी एक का स्वास्थ्य खराब होगा। जैसे की अप्रैल और मई के महीने में आपके जीवनसाथी का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा, परंतु आपका स्वास्थ्य खराब हो सकता है। अच्छी बात यह है कि आप दोनों का स्वास्थ्य एक साथ कभी भी खराब नहीं होगा। उपाय- शुक्रवार को मंदिर पर जाकर गरीबों के बीच में चावल का दान दें तथा अगर संभव हो तो पुजारी जी को सफेद वस्तुओं का दान दें।

व्यापार
लोहा, वाहन, बिजली आदि का व्यापार करने वालों के लिए पूरा वर्ष अति उत्तम है। जून के महीने में तुला लग्न के जातकों को व्यापार से अच्छा फायदा हो सकता है। इसके अलावा अगस्त, सितंबर, नवंबर तथा दिसंबर के महीने में भी व्यापार उत्तम चलेगा। आपको अपने पार्टनर से इस वर्ष सतर्क रहना चाहिए। किसी से पार्टनरशिप में काम करते समय आपको चाहिए कि आप पार्टनर की पूरी तरह से जांच परख कर ले। उपाय- शनिवार के दिन दक्षिण मुखी हनुमान जी के मंदिर में जाकर कम से कम 3 बार हनुमान चालीसा का जाप करें।

विवाह
जनवरी से लेकर अप्रैल के महीने तक अविवाहित जातकों के विवाह के लिए अच्छे से संकेत मिलेंगे। विवाह के अलावा प्रेम संबंधों में बढ़ोतरी होगी अप्रैल महीने के बाद विवाह प्रस्ताव आना कम हो जाएंगे। इसके अलावा सितंबर के महीने में भी विवाह के प्रस्ताव आ सकते हैं। आपके लिए विवाह हेतु यह पूरा वर्ष ठीक है। बाकी महीनों में भी विवाह के लिए प्रस्ताव आएंगे। परंतु प्रस्ताव में कोई न कोई व्यक्ति कैंची मारने में के कार्य में लगा रहेगा। अतः ऐसे लोगों से आपको सावधान रहना चाहिए, अन्यथा ये लोग विवाह नहीं होने देंगे। उपाय- शनि की पूजा करें तथा पुखराज धारण करें।

मकान
वर्ष 2024 में आपके लिए कई बार मकान आदि खरीदने के अच्छे संयोग आएंगे। इनका अगर आप उपयोग करें तो आप मकान, जमीन, कार, एसी आदि सुख सामग्री की वस्तुएं खरीद सकेंगे। मकान खरीदने का सबसे अच्छा संयोग अक्टूबर से दिसंबर के महीने के बीच में हो सकता है। उपाय- गुरुवार को विष्णु जी या रामचंद्र जी या भगवान कृष्ण के मंदिर में जाकर पूजा अर्चना करें तथा प्रतिदिन राम रक्षा स्त्रोत का जाप करें।

वार्षिक उपाय
अपने संपूर्ण कष्टों के निवारण के लिए आपको चाहिए कि आप किसी विद्वान ब्राह्मण से गणेश अथर्वशीर्षा प्रतिदिन पाठ करवाना चाहिए। इसके अलावा हर शुक्रवार को किसी मंदिर में जाकर गरीबों के बीच में चावल का दान करना चाहिए।

टॉप न्यूज