प्रधानमंत्री सहित देश की महत्वपूर्ण शख्सियतों की जासूसी करवा रहा चीन

भारत के साथ लद्दाख में एलएसी पर तनाव पैदा कर रहा चीन अब भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सांसदों, मुख्यमंत्रियों, सैन्य अधिकारियों, बिजनेसमैन की जासूसी करवा रहा है।

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि चीन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी, सीडीएस बिपिन रावत तथा चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया एसए बोबडे सहित लगभग 10 हजार लोगों की जासूसी करवा रहा है।

इसके अलावा पांच पूर्व प्रधानमंत्रियों, पूर्व और वर्तमान के 40 मुख्यमंत्रियों, 350 सांसद, कानून निर्माता, विधायक, मेयर, सरपंच, बिजनेसमैन और सेना से जुड़े करीब 1350 लोगों की जासूसी कर रहा है।

इंडियन एक्सप्रेस ने जिन नामों का खुलासा किया है कि चीन की कंपनी शेनझेन इंफोटेक और झेन्हुआ इंफोटेक ये जासूसी कर रही है। शेनझेन इंफोटेक कंपनी ये जासूसी चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार के लिए कर रही है. इस कंपनी का काम दूसरे देशों पर नजर रखना है।

चीन की जासूसी कंपनी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरोन और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक समेत वर्तमान के कुल 24 मुख्यमंत्रियों एवं 16 पूर्व मुख्यमंत्री की जासूसी करवा रहा है।