डॉ जेएस मूर्ति स्मृति व्याख्यानमाला: ‘हज़ारों शब्दों का मौन संवाद-छायाचित्रों में व्यक्त यथार्थ’ विषय पर व्याख्यान देंगी डॉ अर्चना आर सिंह

जाने माने छायाकार, फ़ोटो पत्रकार, लेखक एवं संचार विशेषज्ञ डॉक्टर जेम्स सुंदर मूर्ति की स्मृति में एक व्याख्यानमाला का शुभारम्भ 27 सितम्बर 2022 को जबलपुर में होने जा रहा है। मीडिया स्टडी सर्किल के तत्वावधान में आयोजित डॉ जेम्स सुंदर मूर्ति स्मृति व्याख्यानमाला का प्रथम व्याख्यान डॉ अर्चना आर सिंह देंगी, जो पंजाब विश्वविद्यालय चण्डीगढ़ में पत्रकारिता एवं संचार अध्ययन की वरिष्ठ प्रोफ़ेसर हैं। 

रानी दुर्गावती संग्रहालय की हीरालाल कला वीथिका में 27 सितम्बर को शाम 6 बजे से प्रारम्भ व्याख्यान का विषय है- साईलेंटली स्पीकिंग अ थाउज़ंड वर्ड्स-रेप्रेज़ेंटेशन आफ रिएलिटी थ्रू फ़ोटोग्राफ़्स ( हज़ारों शब्दों का मौन संवाद-छायाचित्रों में व्यक्त यथार्थ)। 

आकाशवाणी, प्रसार भारती के पूर्व अपर महानिदेशक एवं ख्यात कवि-समीक्षक राजीव कुमार शुक्ल व्याख्यानमाला की अध्यक्षता करेंगे। व्याख्यानमाला में कोलकाता की जानी मानी मधुमेह रोग विशेषज्ञ डॉ मेरी डिक्रूज़ विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगी। 

इस अवसर पर डॉ मूर्ति के छायाचित्रों की एक प्रदर्शनी भी कला दीर्घा में लगाई जा रही है। व्याख्यानमाला के परिप्रेक्ष्य में प्रकाशित एक स्मारिका का विमोचन भी इस अवसर पर किया जाएगा। महात्मा गांधी ग्रामोदय विश्वविद्यालय चित्रकूट के निदेशक, दूरवर्ती शिक्षा (डायरेक्टर, डिस्टैंस एजूकेशन) प्रोफ़ेसर वीरेंद्र कुमार व्यास समारोह का संचालन करेंगे। 

ग़ौरतलब है कि डॉ जेएस मूर्ति कर्नाटक के एक ज़िले तुमकुर से 1954 में जबलपुर आए और शहर के ही होकर रह गए। उन्होंने फ़ोटोग्राफ़ी, पत्रकारिता, लेखन और संचार अध्ययन के क्षेत्रों में अपने योगदान से जबलपुर शहर सहित प्रदेश और देश को अंतरराष्ट्रीय ख्याति दिलाई थी। 88 वर्ष की आयु में उनका निधन वर्ष 2019 में हो गया। मीडिया स्टडी सर्किल जबलपुर ने उनकी स्मृति में प्रति वर्ष एक व्याख्यानमाला का आयोजन करने का निर्णय लिया है। 

मीडिया स्टडी सर्किल के अध्यक्ष एवं संयोजक लक्ष्मी कांत शर्मा ने ख़ासकर छायाकारों, चित्रकारों, पत्रकारों, सम्पादकों, लेखकों, संस्कृतिकर्मियों, पत्रकारिता एवं जनसंचार के छात्रों, शिक्षकों, विधि व न्यायिक क्षेत्र के लोगों, विज्ञापन जगत सहित संवेदनशील नागरिकों से उपास्थिति की अपील की है।