एमपी हाइकोर्ट ने दी WCRMS के महासचिव को राहत: अगली सुनवाई तक कार्यवाही पर लगाई रोक

मध्य प्रदेश हाइकोर्ट ने राहत देते हुए वेस्ट सेंट्रल रेलवे मज़दूर संघ के महासचिव अशोक शर्मा और अन्य के विरुद्ध अगली सुनवाई तक किसी भी तरह का कठोर कदम उठाए जाने पर रोक लगा दी है।

वहीं संघ प्रवक्ता सतीश कुमार ने बताया कि वेस्ट सन्ट्रेल रेलवे मजदूर संघ से निष्कासित भटनागर पिता पुत्र भूतपूर्व अध्यक्ष कार्यकारी अध्यक्ष आरपी भटनागर व अमित भटनागर ने बदले की भावना से वेस्ट सेन्ट्रल रेलवे मजदूर संघ को कमजोर करने की साजिश के तहत षडयंत्र रच रहे है। इसी क्रम में विगत माह आरोप लगाकर संघ महामंत्री अशोक शर्मा, कोषाध्यक्ष अनुज तिवारी व अन्य कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कराया था।

उन्होंने बताया कि इसी मामले में माननीय एमपी हाइकोर्ट ने अशोक शर्मा व अन्य को राहत देते हुए इनके विरूद्ध अगली सुनवाई तक किसी भी तरह की कार्यवाही करने पर रोक लगा दी है।

सतीश कुमार ने बताया कि हमें देश के कानून पर पूर्ण विश्वास है। संघ के कार्यकर्ता, पदाधिकारी एवं कोटा, भोपाल तथा जबलपुर मंडल के मजदूर संघ का समस्त कैडर कंधे से कंधा मिलाकर एकजुट है। संघ के जबलपुर मंडल सचिव डीपी अग्रवाल ने कहा कि संघ को तोड़ने व नेस्नाबूत करने की भटनागर एंड सन्स की साजिश को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।