MP News: बीएमओ पर अनियमितता का आरोप, आशा कार्यकर्ताओं से लिए जा रहे निःशुल्क आई कार्ड के पैसे

मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाटन में निःशुल्क आई कार्ड के एवज में भी 200 से 300 रुपए प्रति आशा कार्यकर्ता लिये जा रहे है। इस संबंध में जबलपुर कलेक्टर के नाम कार्यालय अधीक्षक महेश जाटव को ज्ञापन सौंपकर बीएमओ की अनियमितताओं से अवगत कराया गया।

संघ ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा आशा कार्यकर्ताओं को निःशुल्क आई कार्ड प्रदाय किये जा रहे हैं। परन्तु सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पाटन में इस निःशुल्क कार्ड के लिए 200 से 300 रुपए प्रति कार्यकर्ता मांग की जा रही है और इस राशि की किसी भी प्रकार की कोई रसीद नहीं दी जा रही है।

इससे पहले भी आशा कार्यकर्ताओं को मिलने वाले मानदेय एवं योजनाओं से मिलने वाली राशि के एवज में कमीशन की मांग की जाती रही। परन्तु अपने पद से अलग कर देने के भय से आशा कार्यकर्ताओं द्वारा किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं की गई। संघ मांग करता है कि इस कार्य में दोषी अधिकारियों के विरुद्ध कठोर दण्डात्मक कार्यवाही करने के साथ ही इनका स्थानांतरण अन्य जगह किया जाए।

संघ के योगेन्द्र दुबे, अर्वेन्द्र राजपूत, अटल उपाध्याय, एआई. मंसूरी, मुकेश सिंह, दुर्गेश पाण्डे, अजय सिंह ठाकुर, सुनील राय, नितिन अग्रवाल, गगन चौबे, विनय नामदेव, मनीष लोहिया, मनीष शुक्ला, विजय कोष्टी, आनंद रेकवार, सरेश पाण्डेय, अभिषेक मिश्रा, रामकुमार सिंह, सोनल दुबे, प्रियांश शक्ला, महेश कोरी, महेश ताम्रकार, मो. तारिक, नितिन शर्मा, श्याम नारायण तिवारी आदि ने कलेक्टर से मांग की है कि बीएमओ की अनियमितताओं की जांच कर, निःशुल्क आई कार्ड आशा कार्यकर्ताओं को प्रदान किये जाएं।