Friday, July 19, 2024
Homeमध्यप्रदेशसीखो कमाओ योजना के तहत बिजली कंपनियों में प्रशिक्षण ले रहे युवाओं...

सीखो कमाओ योजना के तहत बिजली कंपनियों में प्रशिक्षण ले रहे युवाओं की नियमित पदों पर की जाए नियुक्ति

मध्य प्रदेश विद्युत मंडल तकनीकी कर्मचारी संघ के प्रांतीय महासचिव हरेंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 23 अगस्त 2023 को मुख्यमंत्री सीखो-कमाओ योजना का आरंभ किया गया था, जिसके तहत प्रदेश की बिजली कंपनियों में भी हजारों युवाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है।

हरेंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि सीखो कमाओ योजना के तहत बिजली कंपनियों में प्रशिक्षण ले रहे युवाओं के प्रशिक्षण की अवधि कुछ दिनों में पूर्ण हो जायेगी। विभिन्न विभागों में प्रशिक्षण ले रहे ये युवा अपने-अपने कार्य में पूरी तरह दक्ष हो चुके हैं, ऐसी स्थिति में सरकार और ऊर्जा विभाग को इस कुशल मैनपावर को कंपनी में नियमित पदों पर नियुक्त करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि वैसे भी बिजली कंपनियों में मैनपावर की खासी कमी हैं, ऐसे में कुशल युवाओं की नियमित पदों पर भर्ती करने से कुछ हद तक मैनपावर की कमी भी पूरी होगी और बिजली कंपनियों की कार्यप्रणाली से पूरी तरह परिचित हो चुके युवाओं की नियुक्ति कंपनी के लिए लाभकारी ही होगी, क्योंकि नियुक्ति के बाद इन्हें फिर से प्रशिक्षण नहीं देना होगा।

संघ के मोहन दुबे, राजकुमार सैनी, अजय कश्यप, लाखन सिंह राजपूत, अरुण मालवीय, इंद्रपाल सिंह, जगदीश मेहरा, अमीन अंसारी, महेश पटेल, शशि उपाध्याय, विनोद दास, पवन यादव, संदीप यादव, राहुल दुबे ने प्रदेश के मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री से मांग की है कि मध्य प्रदेश शासन की सीखो-कमाओ योजना के तहत बिजली कंपनियों में प्रशिक्षण ले रहे युवाओं को नियमित पदों पर नियुक्त किया जाए।

संबंधित समाचार