Sunday, March 3, 2024
Homeएमपीसरकारी कर्मचारियों की नई परेशानी, बैंक खाते में नहीं आ रही जीपीएफ...

सरकारी कर्मचारियों की नई परेशानी, बैंक खाते में नहीं आ रही जीपीएफ एवं मानदेय की राशि

सरकारी कर्मचारियों को नई परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कोषालय से आर्थिक भुगतान नहीं होने से स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को विधानसभा चुनाव संपन्न होने के पश्चात भी आज दिनांक तक चुनाव मानदेय की राशि बैंक खाते में जमा नहीं हो पाई है।

मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि कर्मचारियों के अन्य आर्थिक भुगतान भी जैसे जीपीएफ और पेंशन प्रकरण के स्वयत्त एवं मेडीकल की राशि कोषालय से भुगतान होने के पश्चात् भी कर्मचारियों के खाते में नहीं पहुंचने से कर्मचारियों को अत्यंत आर्थिक एवं मानसिक परेशानियों का सामना करना पड रहा है।

वर्तमान समय में विवाह एवं गंभीर बीमारियों के इलाज के भुगतान में धन की आवश्यकता होती है, पंरतु भुगतान लंबित होने के कारण कर्मचारी अपने बच्चों की शादी एवं इलाज के लिए ब्याज पर पैसा लेने के लिए मजबूर हो रहा है। अतः संघ मांग करता हैं कि कर्मचारियों का कोषालय द्वारा भुगतान होने के पश्चात् शीघ्र राशि उनके खाते में जमा कराई जाये।

संघ के अर्वेन्द्र राजपूत, अवधेश तिवारी, अटल उपाध्याय, आलोक अग्निहोत्री, ब्रजेश मिश्रा, मनोज सिंह, वीरेन्द्र चंदेल, एसपी बाथरे, सीएन शुक्ला, वीरेन्द्र तिवारी, घनश्याम पटेल, अंकित चौरसिया,चूरामन गूजर, संदीप चौबे, तुषरेन्द्र सिंह, नीरज कौरव, निशांक तिवारी, नवीन यादव, अशोक मेहरा, अमित पटेल, शिशिर श्रीवास्तव, नीतेश राठौर, मधुर कपूर, सतीश देशमुख, रमेश काम्बले, पंकज जायसवाल, प्रीतोष तारे, शेरसिंह, मनोज सिंह, अभिषेक वर्मा, वीरेन्द्र पटेल, रामकृष्ण तिवारी, रितुराज गुप्ता, अमित गौतम, अनिल दुबे, अतुल पाण्डे आदि ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को ईमेल कर मांग की है कि कर्मचारियों के चुनाव मानदेय एवं अन्य आवश्यक भुगतान शीघ्र खाते में जमा कराने की कार्यवाही की जाये।

टॉप न्यूज