Wednesday, April 24, 2024
Homeएमपीमुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की प्रेस वार्ता: कहा- सीसीटीवी की निगरानी में स्ट्रॉग...

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की प्रेस वार्ता: कहा- सीसीटीवी की निगरानी में स्ट्रॉग रूम से मतगणना हॉल तक पहुंचेगी ईवीएम

विधानसभा निर्वाचन-2023 में 230 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना की तैयारियों को लेकर शुक्रवार को निर्वाचन सदन भोपाल में प्रेस वार्ता हुई। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन ने बताया कि प्रदेश की सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना 52 जिला मुख्यालयों पर 3 दिसम्बर को सुबह 8 बजे से प्रारंभ होगी। मतगणना की सभी तैयारियां की जा चुकी हैं। सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस आयुक्त एवं पुलिस अधीक्षकों को मतगणना केन्द्र में सुरक्षा मापदण्डों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गये हैं। मतगणना का दिन शुष्क दिवस घोषित किया गया है।

अनुपम राजन ने बताया कि मतगणना स्थल पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। केवल अधिकृत पास-धारक व्यक्ति ही प्रवेश कर सकेंगे। मतगणना सेंटर पर प्रत्येक विधानसभा के लिए पृथक-पृथक मतगणना हॉल बनाए गये है, जहां आयोग के निर्देशानुसार टेबलों की व्यवस्था पोस्टल बैलेट एवं ईवीएम की मतगणना के लिए की गई है। मतगणना कर्मियों का रेण्डमाईजेशन त्रिस्तरीय होगा। प्रथम रेण्डमाईजेशन हो चुका है। द्वितीय स्तर का रेण्डमाईजेशन मतगणना के प्रारंभ से 24 घंटे पूर्व होगा तथा तृतीय रेण्डमाईजेशन मतगणना के दिन सुबह 5 बजे होगा। आयोग द्वारा सभी विधानसभा क्षेत्रों की मतगणना के लिए प्रेक्षक नियुक्त किए गए है, जो जिलों में पहुंच चुके हैं। द्वितीय एवं तृतीय रेण्डमाईजेशन प्रेक्षक की उपस्थिति में किया जाएगा।

अनुपम राजन ने बताया कि रिटर्निंग ऑफिसर एवं सहायक रिटर्निंग ऑफिसर पोस्टल बैलेट के लिए बनाए गए स्थानीय स्ट्रांग रूम से मतगणना सेंटर में बने पोस्टल बैलेट के स्ट्रॉग रूम में 2 दिसम्बर को अपरान्ह 3 बजे के बाद पोस्टर बैलेट को स्थानांतरित करने की कार्यवाही करेंगे, जिसकी सूचना मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दलों तथा अभ्यर्थी एवं उनके मतगणना अभिकर्ता को अनिवार्यतः दी जायेगी। पोस्ट से प्राप्त होने वाले सेवा निर्वाचकों के पोस्टल बैलेट मतगणना केन्द्र पर सुबह 8 बजे के पूर्व तक प्राप्त हो सकते है। इसके लिए रात्रि में पोस्टल डिपार्टमेन्ट को प्राप्त होने वाले पोस्टल बैलेट की डिलेवरी सुबह 8 बजे के पहले मतगणना केन्द्र पर हो जाएं, इस के लिये पोस्टल डिपार्टमेन्ट के नोडल अधिकारी एवं पोस्टमेन को पास जारी किए गए हैं।

अनुपम राजन ने बताया कि अधिकृत मीडियाकर्मियों के लिए मतगणना केन्द्र पर एक पृथक कक्ष में मीडिया सेन्टर बनाया गया है, जहां पर टेलिफोन, कम्प्यूटर, प्रिन्टर एवं इंटरनेट आदि की सुविधा उपलब्ध रहेगी। मीडिया कर्मियों के लिए आयोग द्वारा प्राधिकार पत्र जारी किए गए हैं।

अनुपम राजन ने बताया कि ईवीएम की मतगणना टेबल पर एक काउंटिंग सुपवाईजर एक काउंटिंग असिस्टेंट एवं एक काउंटिंग स्टॉफ तथा एक माइक्रो आर्ब्जवर रहेगा। इसी प्रकार पोस्टल बैलेट की गणना टेबल पर एक सहायक रिटर्निंग अधिकारी, एक काउंटिंग सुपरवाईजर, दो काउंटिंग असिस्टेंट तथा एक माइक्रो आर्ब्जवर रहेगा। माइक्रो आर्ब्जवर केन्द्र सरकार के विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी होंगे।

अनुपम राजन ने बताया कि ईवीएम एवं पोस्टल बैलेट की टेबल पर अभ्यर्थी के काउंटिंग ऐजेन्ट रहेगें, जिनके बैठने का क्रम मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनैतिक दल, ऐसे मान्यता प्राप्त अन्य राज्यों के राज्यीय दल, जिन्हें उस विधानसभा क्षेत्र के लिए चुनाव चिन्ह नियत किया गया है, फिर अमान्यता प्राप्त रजिस्ट्रीकृत दल आखिर में निर्दलीय रहेगा।

अनुपम राजन ने बताया कि स्ट्रॉग रूम से मतगणना हॉल तक मशीनें पहुंचने के लिए विधानसभा क्षेत्र वार पृथक-पृथक मार्ग, रास्ता, व्यवस्था निर्धारित की गई है, जिसका सीसीटीवी कवरेज होगा। इलेक्शन आर्ब्जवर के अतिरिक्त किसी को भी मतगणना हॉल में मोबाईल ले जाने की अनुमति नहीं है। केवल रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी और काउंटिंग सुपरवाईजर जो ईटीपीबी से जुड़े हैं, वह केवल ईटीपीबीएमएस सिस्टम ओपन करने के लिए ओटीपी हेतु मोबाईल ले जा सकेंगे तथा इसके पश्चात मोबाईल बंद कर प्रेक्षक, रिटर्निंग अधिकारी एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी के पास जमा कराएंगे।

अनुपम राजन ने बताया कि मतगणना जिला मुख्यालय पर सुबह 8 बजे विधानसभा क्षेत्र वार प्रारंभ होगी। सबसे पहले पोस्टल बैलेट की मतगणना शुरू होगी। पोस्टल बैलेट की मतगणना के आधे घण्टें पश्चात प्रात: 8:30 बजे ईवीएम से मतगणना प्रारंभ होगी। विधानसभा के पोस्टल बैलेट की मतणना समाप्त होते ही अभ्यर्थी वार डाक मतपत्रों के परिणाम की घोषणा की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक राउंड पूरा होने पर नियमानुसार उस राउंड के परिणाम की घोषणा की जायेगी तथा दूसरे राउंड की गिनती प्रारंभ होगी। मीडिया को भी इसकी जानकारी मीडिया सेन्टर में दी जायेगी। इस हेतु जिला जनसम्पर्क अधिकारी समन्वय बनायेंगे।

अनुपम राजन ने बताया कि मध्यप्रदेश विधानसभा निर्वाचन 2023 में 80 वर्ष से अधिक उम्र के 51 हजार 259 वरिष्ठ मतदाताओं एवं 12 हजार 93 दिव्यांग मतदाताओं ने घर से मतदान किया। अत्यावश्यक सेवाओं के एक हजार 113 कर्मियों द्वारा मतदान किया गया। 3 लाख 4 हजार 623 मतदान कर्मियों द्वारा पोस्टल बैलेट से मतदान किया गया। मतदान केन्द्र पर ही मतदान के लिये 21 हजार 197 मतदानकर्मियों को ईडीसी जारी किए गए थे।

अनुपम राजन ने बताया कि मध्यप्रदेश में ईवीएम की गणना के लिये 4 हजार 369 टेबल तथा पोस्टल की मतगणना हेतु 692 टेबल लगाए गए हैं। ईवीएम मतगणना हेतु सबसे अधिक 26 राउंड 193-झाबुआ विधानसभा क्षेत्र में तथा सबसे कम 12 राउंड दतिया जिले के 20-सेवढ़ा विधानसभा क्षेत्र में होगें।

अनुपम राजन ने बताया कि मतगणना के परिणाम के लिए जिलों में स्क्रीन आदि पर व्यवस्था की गई है। मतगणना के परिणाम भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाईट https://results.eci.gov.in तथा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश की वेबसाईट ceomadhyapradesh.nic.in पर भी प्रदर्शित होंगे। इसके साथ आमजनों की सुविधा के लिए वोटर हेल्पलाईन एप पर भी मतगणना के परिणाम उपलब्ध रहेंगे, इस हेतु इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना होगा। मतगणना उपरांत निकाले जाने वाले जुलूस, रैली जिला प्रशासन से नियमानुसार अनुमति प्राप्त कर ही निकाले जा सकेंगे।

टॉप न्यूज