Friday, March 1, 2024
Homeएमपीएमपी में अपर मुख्य सचिवों को सौंपा गया संभागों में पर्यवेक्षण का...

एमपी में अपर मुख्य सचिवों को सौंपा गया संभागों में पर्यवेक्षण का दायित्व

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में संभाग स्तर पर विकास कार्यों की समीक्षा के लिये होने वाली बैठक के प्रभावी अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण के लिये अपर मुख्य सचिवों को संभाग का प्रभारी अधिकारी नामांकित किया गया है।

मध्य प्रदेश के सामान्य प्रशासन विभाग के आदेशानुसार अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान को भोपाल संभाग, विनोद कुमार को जबलपुर संभाग, जे.एन. कंसोटिया को रीवा संभाग, राजेश राजौरा को उज्जैन संभाग, एस.एन. मिश्रा को सागर संभाग, मलय श्रीवास्तव को इंदौर संभाग, अजीत केसरी को नर्मदापुरम संभाग, अशोक बर्णवाल को शहडोल संभाग, मनु श्रीवास्तव को चम्बल संभाग और के.सी. गुप्ता को ग्वालियर संभाग का प्रभारी अधिकारी बनाया गया है।

प्रभारी अधिकारियों द्वारा संभागीय स्तर पर मुख्यमंत्री द्वारा ली जा रही बैठकों में दिए गए निर्देशों का पालन कराना होगा। इसके अलावा जिलों में यदि कोई विषय राज्य स्तर के विभिन्न विभागों के समन्वय से संबंधित है, तो इस संबंध में विभिन्न विभागों से परस्पर समन्वय कर उनका निराकरण कराना एवं इस तथ्य मुख्य सचिव के संज्ञान में लाना होंगे। दो माह में कम से कम एक बार संभाग के जिलों का भ्रमण कर प्रत्येक माह वीडियों कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से विकास कार्यो की समीक्षा करना होगी।

संभाग के प्रभारी अधिकारियों को मुख्यमंत्री द्वारा संभाग के जिलों के संबंध में समय-समय पर दिए गए निर्देशों का संबंधित जिले में पालन सुनिश्चित कराना होगा तथा जिलों के लिए चिन्हित प्रमुख योजनाओं एवं परियोजनाओं एवं विकास कार्यो का अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण करने के साथ ही मुख्यमंत्री द्वारा संभागीय बैठकों में भी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहना होगा।

टॉप न्यूज