Sunday, May 26, 2024
Homeटॉप न्यूजअगर खेत में ट्रांसफार्मर लगवाना है, तो किसान आवेदन करें, मंगलवार से...

अगर खेत में ट्रांसफार्मर लगवाना है, तो किसान आवेदन करें, मंगलवार से शुरू होगी ट्रांसफार्मर अनुदान योजना

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि कमलनाथ जी ने ट्रांसफार्मर अनुदान योजना भी बंद कर दी थी। लेकिन मैं उस योजना को कल से शुरू कर रहा हूं, अब अगर खेत में ट्रांसफार्मर लगवाना है, तो कल से आवेदन कीजिये।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर जिले के सुरखी में जनसभा में कहा कि सुरखी में शासकीय महाविद्यालय प्रारंभ किया जाएगा। मध्यप्रदेश सरकार किसानों, गृहणियों और विद्यार्थियों के हित में निरंतर कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि जहां किसानों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण सुविधा और किसान सम्मान निधि का लाभ दिलवाया जा रहा है, वहीं गृहणियों के हित में 450 रूपए में रसोई गैस सिलेंडर उपलब्ध करवाने का कार्य किया गया है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना से प्रदेश की सवा करोड़ से अधिक बहनें लाभान्वित हो रही हैं।

श्री चौहान ने कार्यक्रम में उपस्थित हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का स्वागत किया। कार्यक्रम में राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के साथ ही सागर जिले के अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हायर सेकेण्डरी में सबसे अधिक अंक लाने वाले एक बेटे और एक बेटी को स्कूटी प्रदान करने, 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों को लैपटॉप की राशि और 6वीं और 9वीं में सायकिल के लिए 4 हजार 500 रूपए की राशि उपलब्ध करवाई जा रही है। गरीब परिवारों के हित में नि:शुल्क राशन और आयुष्मान कार्ड के माध्यम से उपचार की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने निर्धनों के कल्याण के लिए कोई कसर बाकी नहीं रखी है।

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार जनहित में सभी बुनियादी आवश्यकताओं की उपलब्धता सुनिश्चित कर रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने किसानों के हितों की हमेशा चिंता की है। पूर्व सरकार ने ट्रांसफार्मर अनुदान योजना बंद कर दी थी। अब इस योजना को पुन: शुरू किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिन परिवारों का विस्तार हुआ और उन्हें रहने के लिए अपनी भूमि नहीं है, उन्हें नई आवास योजना से लाभान्वित किया जाएगा। प्रधानमंत्री आवास योजना और आवास प्लस का लाभ लेने से शेष रह गए, परिवारों को नई योजना का लाभ मिलेगा। प्रत्येक परिवार को जमीन का अपना टुकड़ा मिलेगा। पूर्व में मुख्यमंत्री भू-आवासीय अधिकार योजना के माध्यम से भी हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया है। अब प्रदेश में कोई परिवार टूटी टपरिया में नहीं रहेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने सिंचाई के साथ ही सड़कों के निर्माण और विद्युत आपूर्ति के क्षेत्र में पूर्व सरकार की तुलना में अभूतपूर्व कार्य करके दिखाया है। पूर्व सरकार ने अनेक कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया था, जिन्हें फिर से प्रारंभ कर गति प्रदान की गई है। बुजुर्गों को रेल के साथ वायुयान द्वारा भी तीर्थदर्शन करवाया जा रहा है।

संबंधित समाचार

Advertisement