Saturday, May 25, 2024

Daily Archives: Mar 4, 2023

सीएम चौहान की घोषणा: 4 तहसीलों को मिला कर मऊगंज बनेगा प्रदेश का नया जिला

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सरकार का मऊगंज तहसील को जिला बनाने का वादा आज पूरा हो रहा है। चार तहसील...

मुझसा न कोई मिलेगा: अनामिका गुप्ता

अनामिका गुप्ता होंगे चाहने वाले तेरे हजारोंकद्रदान मुझसा न कोई मिलेगालुटाते होंगे दिल तुझपे हजारोंजां लुटाने वाला, मुझसा न कोई मिलेगा 🟣 🟪 🟣 जिंदगी खुद की...

जैविक विधि से नष्ट हुई सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के जलाशय की जलकुंभी, एमपी जेनको को हुई 15 करोड़ रुपये की बचत

मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड के सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी के जलाशय में तैरती जलीय खरपतवार सिल्वेनिया मोलेस्टा या जलकुंभी के नियंत्रण में...

एमपी सरकार का आदेश दरकिनार: अधिकारियों की मनमानी से लोक सेवकों को हो रही आर्थिक हानि

मध्यप्रदेश सरकार ने एक आदेश के द्वारा राज्य शिक्षा सेवा भर्ती नियम के तहत 1098 से कार्यरत शिक्षा कर्मी, संविदा शाला शिक्षक एवं अध्यापक...

अजय कुमार दुबे बने अखिल भारतीय कर्मचारी महासंघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

अखिल भारतीय राज्य चतुर्थ श्रेणी सरकारी कर्मचारी महासंघ की राष्ट्रीय महासमिति की बैठक कनॉट पैलेस ऑडिटोरियम हॉल नई दिल्ली में 3 मार्च को आयोजित...

राष्ट्रीय लाइनमैन दिवस पर एमपी ट्रांसको के एमडी सुनील तिवारी ने लाइनमैनों को किया सम्मानित

प्रत्येक मौसम की विषम से विषम परिस्थितियों और दुर्गम भौगोलिक क्षेत्रों में मध्य प्रदेश की 40 हजार सर्किट किमी से अधिक की अति उच्च...

केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ी राहत: एनपीएस की जगह चुन सकेंगे ओपीएस का विकल्प

राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली की जगह पुरानी पेंशन योजना लागू किए जाने की मांग कर रहे केंद्र सरकार के कर्मचारियों को केंद्रीय कार्मिक मंत्रालय ने...

स्त्री सम्वेदनाओं का जीवंत दस्तावेज़ ‘गुलाबी गलियारे’: भावना सक्सैना

समीक्षा- भावना सक्सैनापुस्तक- गुलाबी गलियारे- संस्मरणलेखिका- डॉ.अंजु दुआ जैमिनीपृष्ठ संख्या- 116प्रकाशक- अयन प्रकाशन, वर्ष 2023मूल्य 280 रुपये सदा हँसती-मुस्कुराती, चहकती, आत्मविश्वास से लबरेज़, न जाने...

हमारे हनुमान जी विवेचना भाग ग्यारह: दुर्गम काज जगत के जेते, सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते

जुग सहस्र जोजन पर भानू।लील्यो ताहि मधुर फल जानू॥प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माहीं।जलधि लाँघि गये अचरज नाहीं॥दुर्गम काज जगत के जेते।सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते॥ अर्थहे...