भारतीय जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने रचा इतिहास

229

भारत की शीर्ष जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने तुर्की के मर्सिन में चल रही एफआईजी कलात्मक जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड चैलेंज कप की वॉल्ट स्पर्धा में 14.150 के स्कोर के साथ स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रच दिया। विश्व स्तर की स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाली दीपा देश की पहली जिम्नास्ट है। यह वर्ल्ड चैलेंज कप में उनका पहला पदक था। वहीं इस स्पर्धा में इंडोनेशिया की रिफदा इरफानालुतफी ने 13.400 अंक से रजत पदक जबकि स्थानीय महिला जिमनास्ट गोक्सु उक्टास सानिल ने 13.200 अंक से कांस्य पदक प्राप्त किया। दीपा ने क्वालीफिकेशन में 11.850 के स्कोर से तीसरे स्थान पर रहकर बैलेंस बीम फाइनल्स के लिए भी क्वालीफाई किया। त्रिपुरा की 24 वर्षीय जिम्नास्ट दीपा करमाकर 2016 रियो ओलंपिक में वॉल्ट स्पर्धा में चौथे स्थान पर रही थीं। भारतीय जिम्नास्ट की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दीपा को बधाई दी है।